खबरों का है यही बाजार

उत्‍तर रेलवे महाप्रबंधक ने रेल सुरक्षा बल के जवानों को सम्‍मानित किया

3.53 करोड़ रूपये मूल्‍य की 7.379 किलो सोने की छड़े बरामद करने का किया साहसी काम

0 70
                 BL NEWS
               नई दिल्ली. उत्‍तर रेलवे के महाप्रबंधक, आशुतोष गंगल ने उत्‍तर रेलवे, प्रधान कार्यालय, बड़ौदा हाउस, नई दिल्‍ली में रेल सुरक्षा बल के जवानों को उनके शानदार कार्य के लिए सम्‍मानित किया । यह उल्‍लेख करना आवश्‍यक है कि रेल सुरक्षा बल के जवान अविनाश, उप निरीक्षक, रेल सुरक्षा बल,नई दिल्‍ली, संजय, सीटी,रेल सुरक्षा बल,नई दिल्‍ली, जितेंद्र, उप निरीक्षक, रेल सुरक्षा बल,नई दिल्‍ली और कुलदीप, सीटी, रेल सुरक्षा बल,नई दिल्‍ली ने रेलवे स्‍टेशन पर 3.53 करोड़ रूपये मूल्‍य की 7.379 किलो सोने की छड़े बरामद की थीं ।
अविनाश, उप निरीक्षक, रेल सुरक्षा बल,नई दिल्‍ली ने 3 अन्‍य जवानों के साथ मिलकर नई दिल्‍ली रेलवे स्‍टेशन प्‍लेटफार्म नं. 6/7 पर 2 लोगों को संदिग्‍ध्‍ा स्थिति में पकड़ा था। पूछताछ करने पर उनकी पहचान शेख अब्‍दुल जब्‍बार, आयु 34 वर्ष पुत्र शेख हजरत अली निवासी राजचक पुरबा, मेदिनीपुर,नटशाल, पश्चिम बंगाल तथा शेख मुस्‍तफीजुर रहमान, आयु 30 वर्ष पुत्र शेख उस्‍मान गनी, निवासी बड़ादानाकर, पुरबा, मेदिनीपुर, पश्चिम बंगाल के रूप में की गई । ये लोग लखनऊ से 02003 लखनऊ शताब्‍दी एक्‍सप्रेस से नई दिल्‍ली आए थे ।
जांच करने पर उनके पास से अवैध रूप से लाई गई 3.53 करोड़ रूपये मूल्‍य की 7.379 किलो सोने की छड़ें बरामद की गईं । उन्‍हें रेल सुरक्षा बल चौकी/नई दिल्‍ली ले जाया गया और कस्‍टम विभाग को सूचना दी गई । कस्टम निरीक्षक विनोद कुमार रेल सुरक्षा बल चौकी,नई दिल्‍ली पहुंचे और उन्‍होंने बरामद की गई सामग्री की पहचान सोने की छड़ें होने की पुष्टि की । आगे की कार्यवाही के लिए निर्धारित प्रक्रिया के बाद सोने की छड़ों सहित दोनों व्‍यक्तियों को कस्‍टम विभाग के सुपुर्द कर दिया गया ।
उत्‍तर रेलवे के महाप्रबंधक, आशुतोष गंगल ने उपरोक्‍त चारों रेलवे सुरक्षा बलकर्मियों को उनकी ड्यूटी पर सतर्कता और अनुकरणीय ईमानदारी और निष्‍ठा के लिए प्रत्‍येक को 5000 रूपये का व्‍यक्तिगत नकद पुरस्‍कार से सम्‍मानित किया ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More