खबरों का है यही बाजार

ऑक्सीजन की उपलब्धता में आत्मनिर्भरता की दिशा में एक बड़ा कदम

0 60
                 BL NEWS
नई दिल्ली.उत्तर रेलवे केन्‍द्रीय अस्पताल में 500 लीटर प्रति मिनट (एलपीएम) ऑक्सीजन उत्पादन क्षमता वाले ऑक्सीजन प्लांट का उद्घाटन हुआ.
रेलवे अस्पतालों में ऑक्सीजन से संबंधित बुनियादी ढांचे को बढ़ाने और ऑक्सीजन के लिए बाहरी स्रोतों पर निर्भरता को कम करने तथा ऑक्सीजन की उपलब्धता में आत्मनिर्भर बनने के लिए, उत्तर रेलवे केन्‍द्रीय अस्‍पताल, नयी दिल्‍ली में सीएसआर पहल के तहत 500 लीटर प्रति मिनट (एलपीएम) ऑक्सीजन उत्पादन क्षमता वाले ऑक्सीजन संयंत्र का उद्घाटन किया गया ।
इस ऑक्‍सीजन संयंत्र को उत्‍तर रेलवे के महाप्रबंधक आशुतोष गंगल, डीएफसी के एमडी/ रवींद्र कुमार जैन और उत्तर रेलवे केंद्रीय अस्पताल के अधिकारियों की मौजूदगी में चालू किया गया । सीएसआर पहल के तहत उत्तर रेलवे केंद्रीय अस्पताल, नई दिल्ली में 500 लीटर प्रति मिनट (एलपीएम) वाले ऑक्सीजन उत्पादन संयंत्र को उपलब्‍ध कराने का काम डीएफसीसीआईएल को सौंपा गया था। डीएफसी द्वारा एक महीने से भी कम समय के रिकॉर्ड समय में यह संयंत्र उपलब्‍ध कराया गया है ।
इस अवसर पर बोलते हुए उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक ने डीएफसीसीआईएल के कार्य की सराहना की। उन्होंने कहा कि यह उत्तर रेलवे अस्पताल के लिए ऑक्सीजन की उपलब्धता में आत्मनिर्भरता की दिशा में एक बड़ी छलांग है और यह अस्‍पताल अब मरीजों की सेवा और बेहतर ढंग से करने के लिए तैयार है ।
यह संयंत्र प्रेशर स्विंग एब्जॉर्प्शन तकनीक पर काम करता है जिसमें विशेष शोषक सामग्री का उपयोग गैसों को उनकी आणविक विशेषताओं के आधार पर अलग करने और उच्च दबाव और परिवेश के तापमान पर लक्ष्य गैस को अवशोषित करने के लिए किया जाता है। फिर गैस को कम दबाव पर अवशोषित किया जाता है। सामान्य समय में अस्पताल की ऑक्सीजन की कुल आवश्यकता लगभग 1500 एलपीएम होती है । यह संयंत्र बेस लोड के 30% और चरम कोविड समय में लगभग 10% को पूरा करने में मदद करेगा ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More