खबरों का है यही बाजार

अनियंत्रित महंगाई रोकने व 10 किलो अनाज व ₹7500 कैश प्रतिमाह दे सरकार: सी पी आई (एम)

0 82
                 BL NEWS
लखनऊ. भारत की कम्युनिस्ट पार्टी मार्क्सवादी उत्तर प्रदेश राज्य सचिव मंडल ने एक बयान जारी करते हुए कहा है कि कोविड-19 के साथ ही महंगाई की दोहरी मार आम जनता के लिए असहनीय हो रही है, साधारण लोगों का जिंदा रहना मुश्किल हो रहा है और सरकार बेफिक्र है। उसकी थोड़ी बहुत राहत देने वाली घोषणाएं कागज में ही रह गई है। खाद्य सामग्री खास तौर से खाद्य तेलों और दालों का दाम आसमान छू रहा है ।
कोविड-19 के समय में जमाखोर मुनाफा कमा रहे हैं। सरकार का कोई नियंत्रण नहीं रह गया है। दूसरी तरफ कोरोना के प्रभावऔर बेरोजगारी से आम आदमी कंगाल और बेहाल है। रोज कमाने खाने वाले भूखे पेट जीवन गुजार रहे हैं। भारत की कम्युनिस्ट पार्टी मार्क्सवादी और तमाम दूसरे राजनीतिक दल हर जरूरतमंद को 10 किलो राशन निशुल्क और कम से कम ₹7500 नगद देने की मांग कर रहे हैं किंतु भाजपा सरकार अनसुनी कर रही है। माकपा प्रदेश सचिव मंडल ने कहा कि भाजपा , मोदी एवं योगी सरकारों को प्रदेश की जनता से ज्यादा चिंता उत्तर प्रदेश में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव की है ।
माकपा सचिव मंडल ने उपरोक्त मांगों को दोहराते हुए कहा है कि जन जीवन को बचाने के लिए इन मांगो को तत्काल पूरा किया जाना चाहिए।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More