खबरों का है यही बाजार

राजधानी लखनऊ में अपराधियो के हौसले बुलंद पुलिस पर उठ रहे सवाल

0 88
लखनऊ-जैसे जैसे चुनाव नजदीक आ रहा है वैसे वैसे राजधानी लखनऊ शहर में अपराधिक घटनाओ में बढ़ोत्तरी होती हुई नजर आ रही है।जिससे लोग पुलिस पर सवाल भी उठा रहे हैं आपको बता दूं कि राजधानी लखनऊ के पारा थाना क्षेत्र के अंतर्गत पुरानी कांशीराम कॉलोनी में एक 55 वर्ष महिला की हत्या बदमाशो द्वारा हथौड़े से मार कर हत्या कर दी जाती है मृतक के बेटे द्वारा पारा कोतवाली में एफआईर दर्ज कराई जाती है पुलिस छानबीन तो कर रही है पर अभी तक हत्या किस कारण हुआ वो हत्यारे कौन थे इसका पुलिस अभी तक पर्दाफाश नही कर पाई है।वहीं आशियाना कोतवाली के अंतर्गत भी एक घर में शव मिलने से हड़कंप मच जाता है आशियाना पुलिस इसकी भी जांच पड़ताल में जुटी हुई है।
वहीं राजधानी लखनऊ के कैसरबाग कोतवाली के अंतर्गत एक युवती ने एक डॉक्टर पर प्राइवेट जगह पर हाथ लगाने तथा जबरन बलात्कार का प्रयास करने का आरोप लगाया है युवती दांत का इलाज कराने एक क्लिनिक में गई कैसरबाग पुलिस इस मामले की भी जांच पड़ताल करने में पूरे एनर्जी के साथ एक्टिव हो गई है।
एक मामला और राजधानी लखनऊ के मानक नगर थाना क्षेत्र के अंतर्गत का अपहरण का प्रकास में आया है एक युवती का अपहरण किया गया था मानक नगर पुलिस तत्यपरता दिखाते हुए अपहरणकर्ता को पकड़ कर पास्को एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज करके जेल भेज चुकी है।
अब जरा सोचिए की क्या राजधानी लखनऊ में अपराधी पुलिस का खौफ ख रहे हैं यदि इन अपराधियो को पुलिस का खौफ होता तो ऐसे अपराधिक घटनाओ का अंजाम इतने आसानी से देकर पुलिस प्रशासन की नींद न उड़ा पाते।
राजधानी लखनऊ में आये दिन लगभग दर्जनो चोरी छीना झपटी मारपीट लूटपाट जैसे घटनाओ का अंजाम अपराधियो द्वारा दिया जाता है कुछ मामले तो मीडिया के नजरो में आने से शासन-प्रशासन आला अफसर आम जन तक तो पंहुच पाता है कुछ चौकी थानो तक सीमित रह जाता है।
जिसके कारण अपराधियो के हौसले बुलंद होते हैं और वो बेहिचक बिना पुलिस का खौफ खाये लूट पाट हत्या बलात्कार अपहरण जैसे जघन्य अपराधिक घटनाओ का अंजाम देकर दहशत का माहौल फैला देते है जिससे बाद में शासन-प्रशासन को काफी दिक्कत का सामना करना पड़ता है और केस के तह तक जो उपनिरीक्षक थाना प्रभारी नही पंहुच पाता उसे लाइन हाजिर सस्पेंड भी कर दिया जाता है।
यदि स्थानीय पुलिस छोटी छोटी घटनाओ को हल्के में न लेकर उचित कार्रवाई करके सजा दिलाने के लिए न्यायल तक पंहुचा दे तो अपराधी किस्म के लोग अपने अंदर सुधार लायेंगे और अपराध भ्रष्टाचार पर लगाम भी लगेगा तथा पुलिस सूकून से अपने काम को करती रहेगी और जनता पुलिस पर सवाल भी नही उठायेगी।

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More